हरियाणा के ब्रांड अंबेस्डर बाबा रामदेव को कैबिनेट मंत्री का दर्जा!

चंडीगढ,१४/४ः हरियाणा सरकार योग गुरू बाबा रामदेव को राज्य का ब्रैंड ऎंबैस्डर बनाने के साथ उन्हें कैबिनेट मंत्री का दर्जा देने की तैयारी कर रही है। बाबा रामदेव हरियाणा के ही महेंद्रगढ जिले के मूल निवासी हैं। रामदेव इस प्रस्ताव को स्वीकार करेंगे, इस पर उनकी तरफ से कुछ नहीं कहा गया है।राज्य के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने सोमवार को ट्वीट किया, हरियाणा में योग और आयुर्वेद को प्रोत्साहन देने के ब्रांड अंबेस्डर बाबा रामदेव को कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया जाएगा। पिछले लोकसभा चुनावों में बाबा रामदेव ने भाजपा का समर्थन किया था। हरियाणा में भाजपा सरकार बनने के बाद उन्हें राज्य का ब्रांड अंबैस्डर बनाया गया।

हरियाणा सरकार ने कहा था कि 49 वर्षीय योगगुरू कई एकड में जडी-बूटी जंगल के विकास कार्य की देखरेख करेंगे। इसमें आयुर्वेदिक जडी-बूटियों की 25 हजार प्रजातियां होंगी। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के मुताबिक बाबा रामदेव आयुर्वेद और योग को प्रमोट कर रहे हैं। यह लोगों की भलाई का काम है, इसलिए उन्हें हरियाणा के ब्रैंड ऎंबैसडर के बाद कैबिनेट मंत्री का दर्जा देना सही होगा।

कई बार बवाल

हरियाणा में पहली बार बीजेपी की सरकार बनने के बाद से बाबा रामदेव पर विधानसभा में कई बार बवाल हो चुका है। जब हरियाणा सरकार ने बाबा रामदेव को ब्रैंड ऎंबैस्डर बनाने का फैसला किया था तब भी कांग्रेस ने कडी आपत्ति जतायी थी। पलवल से कांग्रेस विधायक करण सिंह दलाल ने असेंबली में कहा था कि एक तरफ पीएम मोदी लडकियों की सुरक्षा के लिए कैंपेन लॉन्च कर रहे हैं तो दूसरी तरफ बाबा बेटा पैदा करने की दवाई बेच रहे हैं।

कांग्रेस ने ऎतराज जताया

मनोहर लाल खट्टर सरकार में रामदेव को मंत्री बनाने पर हो रही चर्चा पर कांग्रेस ने ऎतराज जताया है। कांग्रेस का कहना है कि इससे बाबा रामदेव के वित्तीय हित जुडे हैं। हाल ही जब बाबा रामदेव को पदम सम्मान देने की खबर आई थी तो उन्होंने इसे लेने से इनकार कर दिया था। हालांकि बाद में भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने साफ किया था कि जिन्हें पदम सम्मान देने का फैसला किया गया है उनमें बाबा रामदेव का नाम नहीं है।

इसके बाद बाबा रामदेव की किरकिरी हुई थी। कांग्रेस नेता अजय कुमार ने कहा बाबा रामदेव सिर्फ योग गुरू ही नहीं हैं, वह एक बिजनसमैन भी हैं। उन्होंने कहा कि यह बाबा रामदेव को बीजेपी का समर्थन करने का इनाम होगा। यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि रामदेव का साम्राज्य सत्ता के भीतर तक फैल रहा है।

Comments

comments