विहिप ने उपराष्ट्रपति के बयान पर जतायी नाराजगी कहा, इस्तीफा दें या मांफी मांगें अंसारी

नयी दिल्ली, 1/9 : विश्व हिन्दू परिषद ने मुस्लिमों के लिए “सकारात्मक कदम’ उठाने की उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी की टप्पिणी की आज आलोचना करते हुए कहा कि यह एक सांप्रदायिक बयान है. विहिप ने कहा कि अंसारी या तो माफी मांगें या फिर इस्तीफा दें. विहिप के संयुक्त महामंत्री सुरेन्द्र जैन ने कहा कि उप राष्ट्रपति के पद को पूरा सम्मान देते हुए विहिप अंसारी के सांप्रदायिक बयान की नन्दिा करती है. यह एक मुस्लिम राजनेता ने बयान दिया और इस तरह का बयान उप राष्ट्रपति पद के व्यक्ति को शोभा नहीं देता. अंसारी या तो माफी मांगें या फिर इस्तीफा दें.

उन्होंने कहा कि अंसारी उप राष्ट्रपति पद से इस्तीफा देकर सक्रिय राजनीति में शामिल हों.जैन ने कहा कि भारतीय मुस्लिमों को दुनिया के कई अन्य इस्लामिक देशों के मुकाबले अधिक संवैधानिक अधिकार हासिल हैं. उन्होंने दावा किया कि मुस्लिमों को कई वषो’ से विभन्नि जरियों से मनाया जाता रहा है.
उप राष्ट्रपति ने मोदी सरकार के आधिकारिक उद्देश्य सबका साथ सबका विकास’ की तर्ज पर मुस्लिमों की पहचान एवं सुरक्षा से जुडी समस्याओं के समाधान के लिए “सकारात्मक कदम’ उठाये जाने की मांग की है. अंसारी ने कल एक कार्यक्रम में कहा था कि जहां तक वंचित रखने, बाहर करने और भेदभाव :सुरक्षा मुहैया कराने में विफलता सहित: का प्रश्न है, सरकार या उसके प्रतिनिधियों की चूक सरकार को ही जल्द से जल्द सुधारनी है और इसके लिए उचित व्यवस्था विकसित की जाए.

Comments

comments