लालू यादव का ऎलान,”नरेंद्र रूपी काले नाग को हम नाथेंगे”

पटना, 26/7 :  आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा है। लालू यादव ने मोदी की तुलना कंस से कर डाली। लालू यादव ने कहा, “नरेंद्र काला नाग हैं, इस पर काबू पाइए।” उप्होंने कहा कि छाती पर चढकर अपना हक लेंगे।लालू केंद्र सरकार द्वारा जातीय जनगणना के आंकड़ों को शीघ्र प्रकाशित किए जाने की मांग को लेकर रविवार को पटना के गांधी मैदान में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने एक दिवसीय उपवास पर बैठे हैं। लालू ने उपवास कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा, “कालिया नाग ने कलयुग में नरेंद्र मोदी के रूप में जन्म लिया है।”

उन्होंने कहा, “कालिया नाग मोदी को यदुवंशी उसी तरह नाथेंगे जैसे कृष्ण ने काले नाग को नाथा था। नरेंद्र रूपी काले नाग को हम नाथेंगे। मोदी ने पहले गुजरात को डंसा और अब पूरे देश को डंसने चला है.. लेकिन हम ऐसा नहीं होने देंगे। बिहार से हम मोदी को नथुनी पहनाकर भगाएंगे।”लालू ने कहा, “नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बनने लायक नहीं हैं। वह ‘डिरेल’ हो गए हैं।”

लालू ने कहा, “गरीबों को आज तक 1931 की जनगणना के आधार पर ही सरकारी योजनाओं में हिस्सा मिल रहा है। इसके लिए जातीय जनगणना भी हुई, लेकिन उसकी रिपोर्ट केंद्र सरकार जारी नहीं कर रही है।”राजद नेता ने कहा, “आज देश का हर तीसरा व्यक्ति भूमिहीन है और छह लाख परिवार भीख मांगकर गुजारा कर रहे हैं।” उन्होंने कहा कि उनकी लड़ाई किसी जाति के खिलाफ नहीं, बल्कि सभी जाति के गरीबों के पक्ष में है।

लालू ने भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि भाजपा का सही अर्थ ‘भारत जलाओ पार्टी’ है।लालू ने घोषणा की कि यदि जातीय जनगणना की रिपोर्ट जारी नहीं हुई तो वह नए सिरे से गरीबों के हक लड़ाई लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि राजद ने सोमवार को बिहार बंद की घोषणा की है। लोग इस बंद को सफल बनाएं।इससे पहले लालू अपने चिर परिचित अंदाज में टमटम पर सवार होकर गांधी मैदान पहुंचे और उपवास पर बैठे। उपवास कार्यक्रम में लालू के साथ जनता दल (युनाइटेड) के अध्यक्ष शरद यादव सहित राजद के कई नेताओं ने हिस्सा लिया।

लालू ने कहा, “पीएम मोदी कालिया नाग हैं और जैसे कृष्णा ने कालिया नाग का वध किया था। हम भी इन्हें नथुनी पहनाकर विदा करेंगे। गौरतलहब है कि शनिवार को मोदी ने मुजफ्फरपुर की रैली में कृष्णा और कालिया नाग की चर्चा लालू और जंगलराज के संदर्भ में की थी।

Comments

comments