मानव संसाधन मंत्रालय ने यूजीसी प्रमुख की खिंचाई की?

नई दिल्ली,५/६ः संसदीय समिति की बैठक के दौरान महात्वाकांक्षी ‘रूसा’ कार्यक्रम पर कथित तौर पर निशाना साधने को लेकर मानव संसाधन विकास मंत्रालय की ओर से यूजीसी प्रमुख वेद प्रकाश की खिंचाई किए जाने की जानकारी है।
समझा जाता है कि उन्होंने दलील दी थी कि मंत्रालय की ओर से संचालित ‘राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान’ (रूसा) कार्यक्रम राज्य के संस्थानों को उन्नत बनाने के लिए धन मुहैया करा कर वही काम कर रहा है जैसा यूजीसी करती है और ऐसे में यूजीसी की भूमिका कमजोर हो रही है।

कहा गया है कि वेद प्रकाश ने यह भी दलील दी कि बहुत भारी रकम रूसा के लिए जा रही है इसलिए यूजीसी के शोध एवं नवोन्मेष के प्रयास को नुकसान हो सकता है।
सूत्रों के मुताबिक बीते 26 मई को संसद की स्थायी समिति के समक्ष रखी गई उनकी राय मंत्रालय को नागवार गुजरी है और उसने इसको लेकर निराशा जताई है।
एक पत्र में मंत्रालय ने उनसे कहा कि वहां उपस्थित अधिकारियों को सरकार के कार्यक्रमों का समर्थन करते हुए संयुक्त समूह के रूप में देखना चाहिए था।
सूत्रों ने कहा कि यूजीसी प्रमुख ने कुछ शब्दों का इस्तेमाल किया जो मंत्रालय को अनुचित लगा और इसको लेकर उनको फटकार लगाई गई।

Comments

comments