दिल्‍ली सदन में अरविंद केजरीवाल कबूलनामा : जीतेंद्र तोमर ने हमें धोखे में रखा

नयी दिल्‍ली, २३/६ : दिल्‍ली विधानसभा के बजट सत्र में बोलते हुए मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा. केजरीवाल ने कहा कि जिस प्रकार तोमर मामले में उन्‍होंने तुरंत एक्‍शन लिया उसी प्रकार नरेंद्र मोदी को भी अपने दागी मंत्रियों के खिलाफ तुरंत एकशन लेना चाहिए. उन्‍होंने अपना और अपनी पार्टी का बचाव करते हुए कहा कि जीतेंद्र तोमर ने उन्‍हें भुलावे में रखा था. जैसे ही उनपर आरोप साबित हुआ, हमारी सरकार ने कार्रवाई की.

केजरीवाल ने यह भी कहा कि जिस प्रकार तोमर ने उन्‍हें धोखा दिया, उसी प्रकार प्रधानमंत्री को भी कुछ मंत्री धोखा दे रहे हैं. विधानसभा में बजट सत्र के पहले दिन ही सत्ताधारी आम आदमी पार्टी और बीजेपी सदस्य एक दूसरे से उलझ गए. बीजेपी ने जहां जितेंद्र सिंह तोमर का मुद्दा उठाया, वहीं आम आदमी पार्टी ने तोमर के जवाब में सुषमा स्वराज का मुद्दा उछाल दिया. सदन में खूब हंगामा हुआ, जिसके बाद बीजेपी विधायक ओपी शर्मा को मार्शल बुलाकर बाहर कर दिया गया.

इससे पहले, बीजेपी विधायक ओपी शर्मा ने फर्जी डिग्री मामले में फंसे ‘आप’ विधायक और दिल्ली के पूर्व कानून मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर का मुद्दा उठाया. उन्होंने पूछा, ‘क्या मुख्यमंत्री जितेंद्र सिंह तोमर के डिग्री विवाद से संतुष्ट हैं. उन्होंने डिग्री की जांच के लिए क्या कुछ कदम उठाए.’ बाद में सदन में खूब हंगामा होने के कारण विधानसभा की कार्यवाही को 15 मिनट के लिए स्थगित कर दिया गया.

स्थगन के बाद जब सदन की कार्यवाही फिर शुरू हुई तो पहले की तरह हंगामा शुरू हो गया.  तोमर मुद्दे पर भाजपा विधायक की ओर से पूछे गये सवाल के जवाब में बोलते हुए ही अरविंद केजरीवाल ने उक्‍त बातें कहीं. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जिस प्रकार उन्‍होंने तोमर को पद से हटाया है उसी प्रकार प्रधानमंत्री मोदी भी सुषमा स्‍वराज को पद से हटाये. उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री को अपने दागी नेताओं पर कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए.

Comments

comments