आरएसएस का स्‍वयंसेवक होने पर गर्व, बड़े बदलाव के लिए कर रहा हूं काम : नरेंद्र मोदी

नयी दिल्‍ली, 4/9 : राष्ट्रीय स्वयं सेवक की तीन दिवसीय समन्वय बैठक के आखिरी दिन आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल हुए. बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने करीब 15 मिनट तक भाषण दिया. इस दौरान उन्‍होंने आरएसएस और भाजपा नेताओं के सामने अपनी सरकार के कामकाज के बारे में बताया.

सूत्रों के हवाले से मिल रही खबरों के अनुसार मोदी ने बैठक में कहा, मुझे आरएसएस का स्‍वयंसेवक होने पर गर्व है. मैं आज जहां पर पहुंचा हूं वहां पर लाने में आरएसएस  में मिले संस्‍कारों का हाथ रहा है. उन्‍होंने सरकार के कामकाज के बारे में कहा, मेरी सरकार बड़े बदलाव के लिए काम कर रही है. बहुत जल्‍द नतीजे भी सामने आने लगेंगे. सूत्रों से मिल रही खबरों के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत से पहले अपना भाषण दिया. भाषण के तुरंत बाद प्रधानमंत्री मोदी बैठक से चले गये.

गौरतलब हो कि बैठक में मोदी के पहुंचने से पहले संघ के सह सर कार्यवाह दत्तात्रेय हसबोले ने मीडिया से बात कर तीन दिनों तक चले विचार मंथन का सार रखा. उन्होंने कहा कि राम मंदिर का मुद्दा अदालत में विचाराधीन है और मोदी सरकार उसके हिसाब से कदम उठायेगी. संघ के सह सर कार्यवाह दत्तात्रेय हसबोले ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए एक सवाल के जवाब में कांग्रेस का नाम लिये बिना कहा कि उन्होंने खुद रिमोट से सरकार चलायी है और उन्हें यह नैतिक हक नहीं है कि वह हम पर यह आरोप लगायें कि हम रिमोट से सरकार चला रहे हैं. उन्होंने कहा कि संघ सरकार नहीं चलाता, हां संघ के लोग जहां काम करते हैं, उनसे बात जरूर करता है और हमारे विचार के लोग सरकार में हैं, तो हम उनसे भी बात कर रहे हैं.

Comments

comments