पाक की मदद के लिए 5 देशों संग आगे आया चीन

दिल्ली, 4/9 : सीमा पर गोलीबारी, आतंकवाद और कश्मीर के मुद्दे पर भारत और पाक में चल रही तनातनी के बीच चीन ने पाकिस्तान को एक खास मदद पहुंचाने के लिए अपने कदम बढ़ाए हैं। चीन ने पांच देशों के साथ मिलकर पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर की राजधानी मुजफ्फराबाद के पुनर्निमाण और विकसित करने की जिम्मेदारी अपने हाथों में ली है। 2005 में आए भूकंप के दौरान मुजफ्फराबाद में काफी तबाही मची थी। इस भूकंप में करीब 60 हजार लोगों की जान चली गई थी।
यह शहर पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद से 125 किमी. दूर है। मुजफ्फराबाद के पुनर्निमाण में जो देश शामिल हैं उनमें चीन के अलावा सऊदी अरब, तुर्की, कुवैत और दक्षिण कोरिया भी हैं।

ये पांचो देश मिलकर पीओके की राजधानी मुजफ्फराबाद में जल विद्युत परियोजनाओं, स्कूल, कॉलेज, सरकारी कार्यालय, विश्वविद्यालय और मस्जिदों के निर्माण में मदद कर रहे हैं। पीओके सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मुजफ्फराबाद में विभिन्न पनबिजली परियोजनाओं और दूसरे कामों के लिए 3 हजार चीनी और 300 कोरियाई श्रमिकों की व्यवस्था की गई है। पीओके के पूर्व प्रधानमंत्री फारुख हैदर ने बताया कि ये पांचो देश पीओके सरकार के सीधे संपर्क में हैं और मदद की धनराशि सीधे उनके पास पहुंच रही है। इन देशों ने बहुत सारी परियोजनाओं का काम लगभग पूरा कर लिया है। गौरतलब है कि इससे पहले अप्रैल में चीन और पाकिस्तान के बीच 46 अरब डॉलर की आर्थिक और ऊर्जा परियोजनाओं समेत 51 द्विपक्षीय समझौतों पर दस्तखत किए गए थे। इन 51 सहमति के साझापत्र (एमओयू) पर दस्तखत के दौरान पाक पीएम नवाज शरीफ ने चीन को गहरा दोस्त बताया था।
चीन ने भारत और पाकिस्तान के बीच शांति वार्ता को बढ़ावा देने की बात भी कही थी। चीन ने कहा थी कि शांति वार्ता को बढ़ावा देना, चीन के दोनों देशों के साथ द्विपक्षीय संबंधों का अहम हिस्सा है।

Comments

comments